अनुपम खेर की जीबनी

अनुपम खेर एक भारतीय फिल्म इंडस्ट्री के आलराउंडर अभिनेता है। इन्होने हर टाइप का किरदार निभाया है और सभी किरदारों को बखूबी से निभाया है। अनुपम खेर को एक अभिनेता ,निर्माता ,निर्देशक और शिक्षक के रूप में भी जाना जाता है। वो मनोरंजन और फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के पिछले अध्यक्ष हैं। वह दो राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार और आठ फिल्मफेयर पुरस्कारों के लाभार्थी हैं।उन्होंने कुछ बोलियों और कई नाटकों में 500 से अधिक फिल्मों में दिखाया है। उन्होंने सारंश (1984) में अपनी प्रस्तुति के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का फिल्मफेयर पुरस्कार जीता। राम लखन (1989), लम्हे (1991), खेल (1992), डर (1993) और दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे (1995): के लिए उन्हें कई बार सर्वश्रेष्ठ हास्य अभिनेता का फिल्मफेयर पुरस्कार जीतने का रिकॉर्ड मिला। उन्होंने डैडी (1989) और मेन गांधी को नह मार (2005) में अपनी प्रदर्शनियों के लिए दो बार स्पेशल मेंशन के लिए राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार जीता। फिल्म विजय (1988) में अपनी प्रस्तुति के लिए, उन्होंने सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता के लिए फिल्मफेयर पुरस्कार जीता।

अनुपम खेर की जन्म और परिचय

नाम -अनुपम खेर

जन्मतारीख -7 मार्च 1955

Redwolf [CPS] IN

जन्मस्थान -शिमला ,हिमाचल प्रदेश

उम्र -65

Myntra [CPS] IN

पेशा -अभिनेता

पिता -स्वर्गीय पुष्कर खेर (फारेस्ट डिपार्टमेंट में क्लार्क )

माता -दुलारी खेर

भाई -राजू खेर (अभिनेता )छोटा भाई

बहन -कंवल ठाकर सिंह ,शरणजीत कौर संधू

धर्म -हिन्दू

राष्ट्रीयता -भारतीय

गृहनगर -शिमला ,हिमाचल प्रदेश

शोक -पुराने हिंदी म्यूजिक को सुनना ,किताबे पड़ना

राशि -मीन

Domino's [CPS] IN

अनुपम खेर की शिक्षा

अनुपम खेर ने शिमला से ही अपनी शुरूयति पढ़ाई की है। और इन्होने थिएटर और ड्रामा में ग्रेजुशन किया है।

स्कूल -डी.ए.बी स्कूल ,शिमला ,हिमाचल प्रदेश

कॉलेज -नेशनल स्कूल ऑफ़ ड्रामा ,नई दिल्ली ,भारत

शैक्षिक योग्यता -थिएटर ड्रामा में ग्रेजुएट

अनुपम खेर की लुक

लम्बाई -5 फुट 7 इंच

बजन -72 kg

रंग -गोरा

आखो का रंग -गहरा काला

बालो का रंग -सर पर बाल नहीं है

अनुपम खेर का फ़िल्मी करियर

1984 में, एक 29 वर्षीय अनुपम खेर ने एक इस्तीफा देने वाले श्रमिक वर्ग के व्यक्ति की भूमिका निभाई, जो सारांश में अपने बच्चे को खो देता है। खेर ने कहा कि उन्होंने कम उम्र में अपने बाल खो दिए थे, और इसलिए, उनकी पहली रोल 29 साल की उम्र में 65 साल की उम्र का निभाया था। इसके बाद, उन्होंने टीवी शो की सुविधा दी, उदाहरण के लिए, से ना समथिंग टू अनुपम अंकल, सवाल दस करोड़ का, लीड इंडिया, और अनुपम खेर शो – कुच्छ भी हो सकता है। उन्होंने गति में कमी का सामना करते हुए हम आपके हैं कौन में अभिनय के लिए सम्मान प्राप्त किया।

खेर ने कई कॉमिक रोल्स की हैं, लेकिन इसी तरह उन्होंने भूमिकाओं का वर्गीकरण भी निभाया है। डैडी (1989) में अपने कार्य के लिए, उन्हें सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए फिल्मफेयर क्रिटिक्स अवार्ड मिला।

उन्होंने कई फिल्मों [शाहरुख खान], उदाहरण के लिए, दर्र (1993), ज़माना दीवाना (1995), दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे (1995), चाहत (1996), कुछ कुछ होता है (1998) जैसी कई फिल्मों में शाहरुख खान के साथ काम किया। मोहब्बतें (2000), वीर-ज़ारा (2004), जब तक है जान (2012) और हैप्पी न्यू ईयर (2014)।

वह ओम जय जगदीश (2002) के साथ समन्वय में भटक गया और एक निर्माता बन गया। उन्होंने फिल्म मैने गांधी को नहीं मारा (2005) बनाई । उनके प्रदर्शन के लिए उन्हें कराची अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव से सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का पुरस्कार मिला।

खेर को सार्वभौमिक रूप से बेंड इट लाइक बेकहम (2002), ब्राइड एंड प्रेजुडिस (2004), द मिस्ट्रेस ऑफ स्पाइसेस (2006) और लस्ट, कौशन (2007), स्पीडी सिंह (2011) और टीवी शो ईआर के लिए जाना जाता है। 2012 में, उन्होंने अकादमी पुरस्कार विजेता सिल्वर लाइनिंग्स प्लेबुक में सह-प्रदर्शन किया।खेर ने ‘कुच भी हो सकत है’ नामक अपने स्वयं के जीवन के बारे में एक नाटक की रचना की और उसे चित्रित किया, जिसे फिरोज अब्बास खान द्वारा समन्वित किया गया था।

2007 में, अनुपम खेर और सतीश कौशिक, जिन्होंने एनएसडी में एक साथ ध्यान केंद्रित किया, और एक फिल्म निर्माण संगठन, करोल बाग प्रोडक्शंस शुरू किया। उनकी पहली फिल्म, तेरे संग, सतीश कौशिक द्वारा समन्वित थी।2011 में, उन्होंने मोहनलाल और जयाप्रदा द्वारा मलयालम भाषा के भावुक नाटक प्राणायाम को करीब से देखा। खेर ने प्राणायाम को अपने करियर की सात सर्वश्रेष्ठ फिल्मों में से एक के रूप में चुना।

इसके अलावा, उन्होंने विभिन्न मराठी फिल्मों में अभिनय किया, उदाहरण के लिए, थोडा तुझा … थोडा माज़ा, काशला उदैची बात , और पंजाबी फिल्में, उदाहरण के लिए, यारन नाल बहारन।

2009 में, खेर ने डिज्नी-पिक्सर की फिल्म-अप 23 के नाम-रूपांतर में कार्ल फ्रेड्रिकसेन को आवाज़ दी।

अनुपम खेर ने इसके अलावा द डर्टी पॉलिटिक्स में भी काम किया है। इसी तरह फिल्म में ओम पुरी और जैकी श्रॉफ भी शामिल हैं।

2014 में, खेर ने ब्रिटिश फिल्म संग्राम में अभिनय किया, जो 1971 के बांग्लादेश मुक्ति संग्राम के दौरान एक अजीबोगरीब भावुकतापूर्ण नाटकीयता थी।

2016 में, अनुपम खेर एबीपी न्यूज़ की कथात्मक टीवी व्यवस्था भारतवर्ष में एक कथाकार थे, जिन्होंने पुराने भारत से उन्नीसवीं शताब्दी तक के भ्रमण का प्रदर्शन किया था।

2016 के अंत में, अनुपम खेर ने ज़िन्दगी पर प्रसारित होने वाले टीवी शो ख़्वाबों की ज़मीन पर, का प्रसारण किया।

2018 की शुरुआत में, अनुपम खेर ने डॉ. विजय कपूर (एक तंत्रिका तंत्र विशेषज्ञ) के रूप में एक और एनबीसी नैदानिक ​​नाटकीय टीवी व्यवस्था न्यू एम्स्टर्डम में दिखाया। इसी तरह उन्होंने बीबीसी 1 के नाटक श्रीमती श्रीमती विल्सन में शाहबाज़ करीम के रूप में दिखाया।

2019 में, खेर ने राजनीतिक, पूर्ववर्ती नाटकीय फिल्म द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर में पूर्व भारतीय प्रधान मंत्री मनमोहन सिंह के रूप में चित्रित किया।

इन्होने अक्टूबर 2003 से अक्टूबर 2004 तक उन्होंने भारतीय फिल्म सेंसर बोर्ड के निदेशक के रूप में काम किया।

अनुपम खेर के हिट फिल्मे

सारांश ,अर्जुन ,कर्मा,तेजाब,राम लखन ,डैडी ,दिल ,बेटा ,लाडला ,हम आपके है कौन ,दिलवाले दुल्हनिया ले जायेंगे ,बड़े मिया छोटे मिया ,मोहब्बते ,जोड़ी no 1 ,वीर -जारा ,सरकार ,रंग दे बसंती ,चुप चुप के ,गॉड तुस्सी ग्रेट हो ,दबंग ,जब तक है जान ,स्पेशल 26 ,में तेरा हीरो ,टॉयलेट -एक प्रेम कथा ,होटल मुंबई ,द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर

अनुपम खेर की परिवार

वैवाहिक स्थिति -विवाहित

पत्नी -किरण खेर

पूर्ब पत्नी -मधुमालती

बच्चे -1

बेटा -सिकंदर खेर (अभिनेता )

अनुपम खेर की अवार्ड्स

. साल 1990 में अनुपम खेर को फिल्म ‘डैडी ‘के लिए बेस्ट एक्टर का अवार्ड मिला।

. साल 1993 में अनुपम खेर को फिल्म ‘ डर ‘के लिए बेस्ट कॉमेडियन का अवार्ड मिला।

. साल 1997 में फिल्म’ चाहत ‘के लिए उन्हें बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर का अवार्ड मिला।

. साल 2004 में अनुपम खेर को ‘पद्म श्री ‘अवार्ड मिला।

. साल 2005 में अनुपम खेर को फिल्म ‘मेने गाँधी को नहीं मारा ‘के लिए स्पेशल जूरी अवार्ड मिला।

. साल 2016 में अनुपम खेर को ‘पद्म भूषण ‘अवार्ड से सम्मानित किया गया है।

अनुपम खेर की लाइफस्टाइल:

अनुपम खेर की आय

अनुपम खेर 1 मूवी करने के लिए 5 करोड़ रुपए लेते है।और ब्रांड इंडोर्समेंट के लिए 1 करोड़ रुपए लेते है।

अनुपम खेर की कुल आय 

अनुपम खेर का नेट वर्थ है 400 करोड़ रुपए।

अनुपम खेर की घर

अनुपम खेर के मुंबई में 2 घर है अँधेरी और जुहू। और इसके कीमत है 10 करोड़ से भी ज्यादा।

अनुपम खेर की कार संग्रह 

. Porsche -2 करोड़

. BMW -80 लाख

. Mercedes -1.5 करोड़

. Rollce Royace -6 करोड़

. Audi -60 लाख

अनुपम खेर की पसंदीदा कुछ चीजे

फवौरिट फूड -फ्राइड प्रॉन्स हुनान सॉस ,कश्मीरी दाम आलू और राजमा चावल

फवौरिट अभिनेता -रोबर्ट डी नीरो ,रणबीर कपूर

फवौरिट एक्ट्रेस -विद्या बालन

फवौरिट रेस्तरां – सम्पन रेस्तरां ,जुहू ,मुंबई

अनुपम खेर के निजी जीबन से जुड़े हुए विवाद

मई 2016 में अनुपम खेर ने 1990 के पलायन के दौरान मारे जाने बाले कश्मीरो पंडितो को एक कोलाज को साझा करते हुए उन्होंने ट्विटर पर एक ट्वीट किया और कहा की ‘हिज्बुल मुजाहिद्दीन के पोस्टर बॉय बुहार्न बानी की हत्या पर सभी शोक ब्यक्त करते है ,जो एक आतंकबादी था। लेकिन किसी ने भी साल 1990 में पलायन के दौरान मारे जाने बाले पंडितो पर शोक ब्यक्त नहीं किया ‘और इस ट्वीट के बजह से काफी आलोचनाओ का सामना करना पड़ा।

Lakme [CPS] IN

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

SELECT LANGUAGE
POWERED BY biswastimez.com